मानव मस्तिष्क human brain

 मानव मस्तिष्क human brain

इस आर्टिकल में मानव मस्तिष्क के बारे में पूरी जानकारी दी गई है। आपको यह आर्टिकल पढ़ने के बाद मानव मस्तिष्क के बारे में पूरी जानकारी अच्छे से हो जायेगा ,मानव मस्तिष्क से संबंधित जितने भी सवाल है।  आपके मन में, उन सब का जवाब इस आर्टिकल में मिलेगा। 

मानव मस्तिष्क human brain

मानव मस्तिष्क क्या है। What is the human mind.

मानव मस्तिष्क, मानव का वह भाग है जो मानव खोपड़ी (कपाल) के अंदर रहता है। जिससे हर मनुष्य अपने अनुसार सूझ बूझ के साथ कार्य कर पाता है। कोई भी मनुष्य जब जन्म लेता हैं तो उसे किसी भी प्रकार का ज्ञान नहीं रहता। मगर जन्म के बाद वो जैसे -जैसे बड़ा होता हैं वो अपने आस पास के माहौल के हिसाब से सब कुछ सीखता रहता हैं। 

 जैसे – भाषा, भोजन करना, लोगो से बात करना। 

जन्म के बाद वह बहुत कुछ सीखता और समझता है। सब कुछ सीखने और समझने के लिए मानव मस्तिष्क का ठीक-ठाक होना बहुत ही जरूरी होता है मानव मस्तिष्क के सही रहने की वजह से ही एक मानव संपूर्ण रूप से मनुष्य रहता है। 

  • जैसे-
  • इच्छाओं
  • संवेगों
  • मन
  • बुद्धि
  • चित्त
  • अहंकार 
  • चेतना
  • ज्ञान
  • अनुभव
  • व्यक्तित्व

इन सब को वक्त पे प्रगट करना मानव मस्तिष्क का ही कार्य होता हैं। 

मानव मस्तिष्क का विकास Human brain development

मानव मस्तिष्क के विकास का बात करें तो मानव का मस्तिष्क बचपन से, 14 साल की उम्र तक काफी तेजी से बढ़ता है। 

कई विशेषज्ञों के अनुसार 14 साल के बाद भी मानव मस्तिष्क का विकास होता रहता है मगर  बचपन के अनुसार, धीमी गति होता है। 

इस कारण का जांच करने के बाद पता चलता है कि 14 साल के बाद मनुष्य के कुछ जिम्मेदारियां बढने लगती हैं जिससे मनुष्य उन्हीं जिम्मेदारियों में उलझ जाता है। जिसके कारण मनुष्य के मस्तिष्क के विकास की गति धीमा हो जाता है। 

मानव मस्तिष्क से संबन्धित रोचक जानकारी Interesting information related to human brain

(1) साइंस के अनुसार यह साबित किया गया है कि मानव मस्तिष्क को 5 मिनट (five minutes) तक ऑक्सीजन कम मिलने पर , मानव मस्तिष्क काम करना बंद कर देता है। 

(2) सेरिब्रम, प्रेमस्तिष्क इन दोनों हिस्सों को मस्तिष्क का सबसे बड़ा हिस्सा माना जाता है। 

(3) शरीर के किसी भी अंग का ट्रांसप्लांट( प्रत्यारोपण ) किया जा सकता है। मगर मस्तिष्क का ट्रांसप्लांट नहीं किया जा सकता। 

(4) मानव मस्तिष्क हड़ियों से बने एक ढांचे के अंदर रहता हैं जिसे क्रेनियम (Cranium) कहते है। 

(5) मानव मस्तिष्क के अध्ययन को न्यूरोलॉजी कहा जाता हैं। 

(6) मस्तिष्क को सुरक्षित रखने के लिए मस्तिष्क के ऊपर तीन परतें होती है। 

(7) अग्र मस्तिष्क के तीन प्रकार होते हैं। 

  •   सेरेब्रम या प्रमस्तिष्क
  •  थैलेमस
  •  हाइपोथैलेमस

Conclusion-

हमें आशा है की हमने आपको मानव मस्तिष्क से जुडी काफी जानकारी सही तरीके से दे दिया है यह जानकारी कैसी लगी और आपका क्या राय है आप Comment section में अपनी राय जरूर साझा करें ताकि हम अपने आर्टिकल को और अधिक ज्ञानपूर्ण बना सकें धन्यवाद।

Leave a Comment